Saturday, April 13, 2024
हिंदी समाचार पोर्टल


UGC ने 20 यूनिवर्सिटीज को किया अवैध घोषित

UGC ने 20 यूनिवर्सिटीज को किया अवैध घोषित, आधिकारिक वेबसाइट पर चेक कर लें यूनिवर्सिटी वैध है या नहीं UGC,…

By शाम्भवी मिश्रा , in देश , at August 8, 2023 Tags: , ,


UGC ने 20 यूनिवर्सिटीज को किया अवैध घोषित, आधिकारिक वेबसाइट पर चेक कर लें यूनिवर्सिटी वैध है या नहीं

UGC, जो यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन के नाम से जानी जाती है, हाल ही में एक पब्लिक नोटिस जारी किया है, जिसके अंतर्गत उसने भारत के 20 अवैध यूनिवर्सिटीज की लिस्ट जारी की और इसकी जानकारी दी। इसके मुताबिक भारत में वे यूनिवर्सिटीज और इंस्टिट्यूशन्स ही विद्यार्थियों को डिग्री दे सकते हैं, जिनकी स्थापना सेंट्रल एक्ट या स्टेट एक्ट अथवा प्रोविंशियल एक्ट के अंतर्गत हुई है। इसके साथ ही UGC Act, 1956 द्वारा लाइसेंस प्राप्त यूनिवर्सिटी और इंस्टिट्यूशन के पास भी विद्यार्थियों को डिग्री देने का अधिकार है।

भारत के कई राज्यों में मिले अवैध यूनिवर्सिटीज :

UGC भारत के अंतर्गत अवैध रूप से कार्य कर रहे यूनिवर्सिटी और इंस्टिट्यूशन को अवैध घोषित कर लोगों को इसकी जानकारी दे रही है। दिल्ली में 8, उत्तर प्रदेश में 4, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में 2, कर्नाटक, केरल, महाराष्ट्र और पुडुचेरी में 1 अवैध यूनिवर्सिटी देखने को मिलेगी। कमीशन के मुताबिक यदि विद्यार्थी इस तरह के यूनिवर्सिटीज या इंस्टिट्यूशन्स में दाखिला लेते हैं, तो उन्हें सबसे पहले UGC की वेबसाइट पर जाकर उनके वैध होने की जानकारी पता कर लेनी चाहिए।

आधिकारिक वेबसाइट से करें यूनिवर्सिटी की जांच :

UGC के पास यह जानकारी भी होनी चाहिए कि उनकी यूनिवर्सिटी मान्यता प्राप्त डिग्री देने में समर्थ है अथवा नहीं। UGC के आधिकारिक वेबसाइट https://www.ugc.gov.in है, जिसकी मदद से आप ऑथराइज्ड और नॉन-ऑथराइज्ड यूनिवर्सिटीज का पता कर सकते हैं। यदि विद्यार्थी किसी भी तरह की गड़बड़ी पाते हैं, तो वह सीधे UGC की ईमेल [email protected] के जरिए UGC को इसकी जानकारी पहुंचा सकते हैं।

शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए शुरू किया गया मैग्नाकार्टा :

बात करें UGC के इतिहास की तो 1835 के Mountstuart Elphinstone’s minute के जरिए ब्रिटिशर्स ने भारतीयों को पढ़ाने के लिए अंग्रेजी और यूरोपियन विज्ञान की शिक्षा देने के उद्देश्य से स्कूलों की स्थापना की। इसे लॉर्ड मैकाले का घोषणा पत्र भी नाम दिया गया। इसके बाद 1854 ईसवी में चार्ल्स ऊड डिस्पैच आई थी, जिसे भारत में अंग्रेजी शिक्षा का मैग्नाकार्टा भी कहा जाता था।

भारत में पहली 3 यूनिवर्सिटीज की हुई थी स्थापना :

मैग्नाकार्टा के मुताबिक, भारत में विद्यालयों को लेकर एक ऐसी योजना बनी, जिसके तहत बच्चे के प्राइमरी स्कूल से लेकर हायर एजुकेशन तक की पढ़ाई की सुविधा उपलब्ध करवाई गई। इसके लिए भारत में 1857 में तीन यूनिवर्सिटीज की स्थापना हुई, जिसमें कोलकाता, बम्बई और मद्रास शामिल थे। 1887 में इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की स्थापना हुई। 1948 में डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन के समर्थन से एक कमिटी गठित की गई। शिक्षा व्यवस्था से संबंधित कई जरूरतों को ध्यान देते हुए यूके की तरह भारत में भी UGC के गठन की बात कही गई। श्री मौलाना अब्दुल कलाम आजाद के द्वारा 28 दिसंबर 1953 में इसकी नींव रखी गई।

वैध लाइसेंस प्राप्त करने के लिए कॉलेज करें ये काम :

किसी कॉलेज की मान्यता अथवा वैध लाइसेंस प्राप्त करने के लिए सबसे पहले कॉलेज को UGC में अप्लाई करना होगा, जिसके बाद यूजीसी अपनी एक्सपर्ट पैनल भेजती है। जांच के दौरान वहां के प्रबंधन, स्टाफ, पॉलिसी आदि की सुविधा सही होने के बाद UGC के द्वारा उस कॉलेज अथवा यूनिवर्सिटी को लाइसेंस प्राप्त हो जाता है।

चंद्रयान 3 से कुछ ऐसा नजर आया चांद, इसरो ने जारी कि चंद्रमा का पहला वीडियो बीते रविवार 6 अगस्त

For Domain Registration visit ticktry.com

Advertisement

Comments